पंचायत में वार्ड सदस्यों को भी मानदेय देने की मांग कीउप प्रधानों और वार्ड सदस्यों को भी बीडीसी बैठक में प्रवेश मिले

Advertisement
Ad


नैनीताल। नैनीताल धर्मशाला में आयोजित बैठक में भीमताल व धारी ब्लाक की महिला जनप्रतिनिधियों ने अपनी समस्याएं गिनाई। महिला जनप्रतिनिधियों ने कहा कि पंचायत के विकास में वार्ड सदस्यों का पूरा सहयोग होता है। इसलिए वार्ड सदस्यों को भी मानदेय मिलना चाहिए। साथ ही ब्लाक में होने वाली बैठकों में उप प्रधान व वार्ड सदस्यों को भी प्रेवश दिया जाए ताकि ब्लाक से संचालित योजनाओं की जानकारी उनको मिल सके।
बृहस्पतिवार को नैनीताल धर्मशाला में द हंगर प्रोजेक्ट के सहयोग से वीरांगना महिला जन प्रतिनिधि संगठन की बैठक आयोजित की गई। बैठक में भीमताल व धारी ब्लाक से पहुंची महिला जनप्रतिनिधियों ने अपनी अपनी समस्याएं सांझा की। महिलाओं ने कहा कि पंचायतों के विकास में वार्ड सदस्यों का पूरा योगदान रहता है। इसलिए प्रधान व उपप्रधानों की तरह उनको भी मानदेय मिलना चाहिए । साथ ही उनको ब्लॉक में आयोजित हर कार्यक्रम व बैठक में बुलाया जाना चाहिए। क्षेत्र से आये महिला जनप्रतिनिधियों ने कहा कि महिला जनप्रतिनिधियों को पंचायत में कार्य करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। वहीं उप प्रधानों ने कहा कि पांच साल पूरे होने को हैं उप प्रधानों का मानदेय नहीं बढ़ा है जबकि सरकार की ओर से घोषणा की गई थी। वहीं धारी क्षेत्र से आई महिला जनप्रतिनिधियों ने कहा कि पदमपुरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में महीने में दो बार ही अल्ट्रासाउंड होते हैं जिससे क्षेत्रीय लोगों को नैनीताल या हल्द्वानी आना पड़ता है। जनप्रतिनिधियों ने सड़क में घूम रहे आवारा पशुओं को उपयुक्त स्थान में पहुंचाने की भी मांग की है। कहा कि मनरेगा की योजना में मानदेय काम होने के कारण व पेमेंट में देरी के कारण उनको काम करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इस दौरान बैठक में हेमा कबडवाल,सीमा बोरा, तुलसी, रेखा, नंदी देवी, प्रेमा, लक्ष्मी, नीमा, भावना मौजूद रहे।

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement