वनाग्नि की घटनाआें की संवदेनशीलता को देखते हुये कैचीधाम मन्दिर में मेला अवधि शुक्रवार से रविवार 16 जून 2024 तक एस.डी.आर.एफ. एवं एन.डी.आर.एफ. टीमें तत्काल राहत एवं बचाव कार्यो हेतु तैनात रहेंगी। अपर जिलाधिकारी

Advertisement
Ad

भवाली/नैनीताल l वनाग्नि की घटनाआें की संवदेनशीलता को देखते हुये कैचीधाम मन्दिर में मेला अवधि शुक्रवार से रविवार 16 जून 2024 तक एस.डी.आर.एफ. एवं एन.डी.आर.एफ. टीमें तत्काल राहत एवं बचाव कार्यो हेतु तैनात रहेंगी। अपर जिलाधिकारी*
अपर जिलाधिकारी पीआर चौहान ने बताया कि वर्तमान में तापमान की वृद्वि एवं आद्रता मे अत्यंत कमी होने के कारण भवाली रेंज, नैनी रेंज एवं मनोरा रेंज अत्यंत संवदेनशील क्षेत्र है। कैंची धाम में 15 जून को स्थापना दिवस के अवसर पर श्रद्वालुओं एवं पर्यटकों द्वारा दर्शन किया जाना सम्भावित है। वनाग्नि की घटनायें होने पर त्वरित कार्यवाही हेतु कैंचीधाम मन्दिर परिसर में दोनो ओर एक किमी के क्षेत्र के साथ ही निगलाट मार्ग के आसपास, हली-हरतपा मार्ग एवं कैचीधाम मन्दिर से रातीघाट के मध्य राहत एवं बचाव कार्यां हेतु वन विभाग, पुलिस विभाग, अग्निशमन आदि विभागों के साथ ही एन.डी.आर.एफ एवं एस.डी.आर.एफ की टीमों की तैनाती की जाती है।
*अपर जिलाधिकारी ने बताया कि टीमें अपने-अपने तैनाती स्थल पर राहत एव बचाव उपकरण के साथ मौजूद रहेंगे। उन्होने कहा किसी भी प्रकार की घटना होने पर तत्काल राहत एवं बचाव कार्य करना सुनिश्चित करेंगे।*

Advertisement

Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement