डीएसबी परिसर में कुलपति ने ध्वजारोहण किया

Advertisement

नैनीताल l कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल के डीएसबी परिसर नैनीताल में 75वे गणतंत्र दिवस के अवसर पर कुलपति कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल द्वारा प्राध्यापको तथा कर्मचारियों को गणतंत्र दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए ध्वजारोहण किया। प्रोफेसर दीवान एस रावत ने अपने संबोधन में कहा कि महापुरुषों के त्याग एवम बलिदान के फलस्वरूप हम आजादी मिली है और आज का दिन उनके बलिदान और त्याग को याद करते हुए हमें उनके बताए मार्ग पर चलना चाहिए ,उन्होंने कहा गुलामी से पूर्ण भारत देश की जीडीपी चौबीस प्रतिशत के आस पास थी जबकि जब देश आज़ाद हुआ 1949में तो दो प्रतिशत के आस पास हो गई थी इसका मतलब है कि हमारे भारत देश को खूब लूटा और खसोटा गया है। प्रो.रावत ने कहा है कि हम एक शिक्षक होने के नाते देश के विकास में महत्वपूर्ण सहयोग देना हमारा नैतिक दायित्व है ।उन्होंने अपने 6महीने के कार्यकाल की उपलब्धि बताते हुए कहा कि हमने राज्य पात्रता परीक्षा (सेट) को सात वर्षों से नही हुई थी सफलता पूर्वक संपन्न करवाई है, नैक तथा दीक्षांत समारोह करवाया गया साथ ही कई संस्थानों से शोध छात्रों की छात्रवृत्ति के लिए प्रयास किए गए और सफल हुए हैं अन्य छात्र के लिए समर इंटरनरशिप भी अगले सत्र से प्रारंभ करने वाले हैं। कार्यक्रम का संचालन प्रो.ललित तिवारी द्वारा किया गया तथा परिसर निदेशक प्रो.नीता बोरा शर्मा द्वारा माननीय कुलपति जी के साथ साथ सभी प्राध्यापको,कर्मचारियों तथा विद्यार्थियों को बधाई एवम शुभकामना देने के साथ साथ सबका धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम में प्रो.दीवान एस रावत कुलपति कुमाऊं विश्वविद्यालय,नैनीताल ,परिसर निदेशक प्रो.नीता बोरा शर्मा, निदेशक विजिटिंग प्रोफेसर निदेशालय एवम कार्यकारी डीएसडब्ल्यू प्रो.ललित तिवारी,प्रो. एम एस मावडी, प्रो.पदम सिंह बिष्ट , डॉ.रीना साह ,डॉ.मनोज कुमार, डॉ.विजय कुमार, डॉ.आशा बी पारछे, डॉ.प्रदीप कुमार, डॉ.लक्ष्मी धस्माना, डॉ.हृदेश शर्मा, डॉ.संध्या यादव, डॉ.दीपक मेलकानी, डॉ.मोहित रौतेला सहित कर्मचारी गण एवम विद्यार्थी उपस्थित रहें।

Advertisement