नैनीताल के पूर्व विधायक किशन तड़ागी नहीं रहे

Advertisement

नैनीताल: नैनीताल के पूर्व विधायक किशन सिंह तड़ागी का सुबह लॉंगव्यू क्षेत्र स्थित आवास पर निधन हो गया। पूर्व विधायक तड़ागी ने पिछले दिनों ही सौ साल की आयु पार की थी। तब नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य सहित तमाम कांग्रेसियों ने उनके आवास जाकर सम्मानित किया था। पूर्व विधायक तड़ागी 1971 से 1977 तक नैनीताल के पालिकाध्यक्ष रहे जबकि 1985 में केसी पंत व एनडी तिवारी की बदौलत उनको नैनीताल सीट से कांग्रेस ने प्रत्याशी बनाया और उन्होंने पूर्व मंत्री प्रताप भैया को पराजित किया। 1989 के विधानसभा चुनाव में उक्रांद नेता डॉ नारायण सिंह जंतवाल को पराजित कर दूसरी बार विधायक बने।
चम्पावत शहर के मेलाकोट के मूल निवासी तड़ागी ने खेतीखान से मिडिल, फिर आगे की पढ़ाई के लिए वीरभट्टी नैनीताल बिष्ट स्टेट मेें नौकरी कर रहे भाई के यहां आ गए। यहां से हाईस्कूल, फिर लखनऊ से पढ़ाई की। बैंक आफ बड़ौदा का डायरेक्टर चुना गया। तब 1971 में पालिकाध्यक्ष चुने गए। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व पालिकाध्यक्ष मुकेश जोशी मंटू व श्याम नारायण , पूर्व विधायक एनएस जंतवाल, किशन नेगी, जगदीश बवाड़ी, नगर कांग्रेस अध्यक्ष अनुपम कबड़वाल सहित शहर के तमाम संगठनों ने उनके निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है।

Advertisement