सार्वजनिक स्थानों पर अलाव जलाए जाने के निर्देश जिला प्रशासन ने दिए

Advertisement

नैनीताल l जिला प्रशासन ने शीतकालीन ऋतु में ठंड, शीतलहर से बचाव हेतु सार्वजनिक स्थानों पर अलाव जलाए जाने, रैन बसेरों का संचालन, निःशुल्क कम्बल वितरण करने के लिए तैयारी पूरी कर ली है। इसी क्रम में अपर जिला अधिकारी फिचांराम चौहान ने बताया कि सार्वजनिक स्थानों पर अलाव जलाए जाने एवं निराश्रित, गरीब व असहाय व्यक्तियों को निःशुल्क कम्बल वितरित किये जाने हेतु समस्त तहसीलों को सुसंगत मद में पर्याप्त धनराशि आवंटित की गई है।
जिसमें शीतलहर/ठंड से बचाव हेतु नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित सार्वजनिक अलाव स्थलों की पर्याप्त संख्या रखते हुए समुचित मात्रा में लकड़ी की व्यवस्था कर अलावों का संचालन और अलावों को समुचित समयावधि तक संचालित किया जाए। कतिपय सार्वजनिक स्थानों / बस स्टेशनों पर सूर्योदय पूर्व भी लोगों/यात्रियों/गाड़ियों का आवागमन होता है, ऐसे स्थानों पर सूर्योदय पूर्व भी अलाव जलाए जाएं। वन निगम एवं स्थानीय लकड़ी टाल को अलावों हेतु पर्याप्त सूखी लकड़ी के भण्डारण हेतु निर्देशित करते हुए लकड़ी की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए, साथ ही अलावों में जलाई जा रही लकड़ी का क्रय उत्तराखण्ड अधिप्राप्ति नियमावली के सुसंगत प्राविधानों के अनुसार करते हुए स्थानवार जलाई गई लकड़ी की मात्रा / समयावधि की पंजिका तैयार करते हुए व्यय का लेखा-जोखा रखा जाए। गरीबों, असहायों एवं बेघरों को मानक के अनुरूप निःशुल्क कम्बल वितरण हेतु गांधी

यह भी पढ़ें 👉  नेशनल बिजनेस प्लान प्रतियोगिता में कुविवि के डीएसबी परिसर के छात्रों का उत्कृष्ट प्रदर्शन

आश्रम आदि जैसे उपक्रमों/ संस्थानों से ही अधिप्राप्ति नियमावली के सुसंगत प्राविधानों के अनुसार क्रय किया जाए। राजस्व कार्मिकों के माध्यम से गरीब, असहाय एवं निराश्रित व्यक्तियों की सूची तैयार करते हुए पात्र व्यक्तियों को ही क्षेत्र के सार्वजनिक स्थलों का नियमित भ्रमण करते हुए कम्बल वितरित किये जाएं। वितरण का पूर्ण लेखा-जोखा तैयार किया जाए तथा वितरण के कार्यवाही की फोटोग्राफी भी की जाए।निजी संस्थाओं, स्वयं सेवी संगठनो एवं व्यापारिक संगठनों को भी निःशुल्क कम्बल वितरण हेतु प्रेरित करते हुए अधिकाधिक गरीब / असहाय लोगों को कम्बल वितरित किये जाएं।साथ ही परगनाधिकारी एवं तहसीलदार ठंड / कोहरे के दौरान रात्रि गश्त करते हुए खुले में ठहरने / सोने वाले व्यक्तियों को रैन बसेरों में ले जाने और रैन बसेरों में स्वच्छता, पेयजल, शौचालय एवं पर्याप्त बिस्तर के साथ-साथ हीटर आदि की व्यवस्था भी सुनिश्चित कराई जाने के निर्देश दिए।बताया कि उपरोक्तानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए शीतकालीन ऋतु में स्वयं / अधीनस्थ कार्मिकों के माध्यम से भ्रमण करते हुए अलाव जलाए जाने, रैन बसेरों के संचालन एवं निःशुल्क कम्बल वितरण की प्रगति की सूचना मय फोटोग्राफ निम्न प्रारूप पर प्रतिदिन [email protected] पर उपलब्ध कराने की बात कही।

Advertisement