अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया

Advertisement

नैनीताल l अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसका लड़कियों के अधिकारों में निवेश करें: हमारा नेतृत्व, हमारा कल्याण इस थीम के साथ बालिका दिवस का आयोजन महिला चिकित्सालय हलद्वनी पर किया गया
डॉ भागीरथी जोशी मुख्य चिकित्सा अधिकारी नैनीताल द्वारा कहा कि 11 अक्टूबर को अंतराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने के पीछे बेटियों के महत्व को समझाना है। अंतराष्ट्रीय बालिका दिवस का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के सामने आने वाली चुनौतियों और उनके अधिकारों के संरक्षण के बारे में जागरूकता पैदा करना है। इसके अलावा बालिका दिवस के मौके पर महिलाओं के सामने आने वाली चुनौतियों और उनके अधिकारों के संरक्षण के बारे में जागरूकता पैदा करना है। यह दिन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह लिंग-आधारित चुनौतियों को समाप्त करता है। जिसका सामना दुनिया भर में लड़कियां करती हैं, जिसमें बाल विवाह, उनके प्रति भेदभाव और हिंसा शामिल है। यह दिन पूरी दुनिया में लड़कियों के महत्व, शक्ति और क्षमता का जश्न मनाता है। यह दिन लड़कियों की आवश्यकताओं और उनके सामने आने वाली समस्याओं पर भी प्रकाश डालता है।
इस मौके पर नवजात बालिकाओं को बेबी किट का वितरण किया गया इस मौके पर डॉ उषा जंगपांगी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक उपस्थित , दीपिका, मीनाक्षी उपस्थित रहे। इसी क्रम पर नैनीताल के नर्सिंग कॉलेज नैनीताल पर भी बालिका दिवस का आयोजन किया गया जहां डॉ एन0सी0 तिवारी अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी , एन0एच0एम0 द्वारा कहा गया
अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस को मनाने का उद्देश्य बेटियों को जागरूक करना है। अपने अधिकारों के लिए, अपनी सुरक्षा और बराबरी के लिए, जिससे वो आने वाली सभी चुनौतियों और परेशानियों का हिम्मत के साथ डटकर मुकाबला कर पाएं। बालिका दिवस का दिन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह लिंग-आधारित चुनौतियों को समाप्त करता है। बता दें कि दुनिया भर में लड़कियां लिंग से जुड़ी परेशानियों का सामना करती हैं, जिसमें बाल विवाह, उनके प्रति भेदभाव और हिंसा शामिल है।
कार्यक्रम का संचालन मदन महेरा जिला कार्यक्रम प्रबंधक द्वारा किया गया इस मौके पर श्री सुरेन्द्र वर्मा प्रधानाचार्य, राधा बरगली, भावना गोस्वामी, कमलेश आर्य, वीना महेरा, दीपक कांडपाल, हरेन्द्र कठायत, ललित उपस्थित रहे ।

यह भी पढ़ें 👉  संयुक्त कर्मचारी महासंघ कुमाऊँ मंडल विकास निगम के अध्यक्ष दिनेश गुरुरानी के नेतृत्व में महासंघ के पदाधिकारियों ने निगम के प्रबंध निदेशक को ज्ञापन देकर लंबे समय से संविदा में कार्यरत कर्मचारियों के नियमितीकरण की मांग उठाई

Advertisement