जनहित संस्था के शिष्टमंडल ने अधिशाषी अधिकारी, नगर पालिका परिषद, नैनीताल को आपत्तियाँ प्रस्तुत की

Advertisement

नैनीताल l जनहित संस्था नैनीताल का एक शिष्टमंडल अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी के नेतृत्व में नगर पालिका परिषद्, नैनीताल द्वारा मॉल रोड में संचालित ई०रिक्शा का एकतरफा किराया 10/- रुपये से बढ़ाकर 20/- रुपये किये जाने के सम्बन्ध में प्रस्तुत आपत्तियों के निस्तारण/सुनवाई हेतु विचार विमर्श हेतु आमंत्रित किया गया था। सुरेन्द्र चौधरी, अध्यक्ष, जनहित संस्था, नैनीताल द्वारा अधिशासी अधिकारी, नैनीताल के समक्ष ई०रिक्शा का किराया बढ़ाने के सम्बन्ध में स्पष्ट रुप से कहा गया कि ई०रिक्शा परिवहन वाहन के अन्तर्गत आने के कारण किराया निर्धारित करने का अधिकार परिवहन आयुक्त, उत्तराखंड के पास निहित है। अधिशासी अधिकारी द्वारा मॉल रोड पर ई०रिक्शा संचालन की दूरी 1.5 किमी बताई गई जब कि संस्था अध्यक्ष का कहना था कि ई०रिक्शा संचालन की एक तरफ की दूरी 1.5 किमी हो ही नहीं सकती। यह दूरी का प्रश्न किराया वृद्धि के लिए उचित नहीं है।
संस्था अध्यक्ष द्वारा अपने आपत्ति पत्र के अनुसार नगर पालिका परिषद् , नैनीताल द्वारा प्रस्तवित ई-रिक्शा शुल्क वृद्धि का पुरज़ोर विरोध किया गया।
शिष्टमंडल में जनहित संस्था के संरक्षक जगमोहन सिंह बिष्ट, अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी, महासचिव अशोक साह, कोषाध्यक्ष महेश चंद्र आर्य, Target प्रभारी जी०के०ए गौरव बब्बी, मनोज सनवाल, महेश चंद्र पाठक, आदि उपस्थित थे।

Advertisement