कुमाऊं विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग में आज कुलपति सेंट्रल यूनिवर्सिटी असम सिलचर प्रो राजीव मोहन पंत ने व्याख्यान दिया

Advertisement

नैनीताल l कुमाऊं विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग में आज कुलपति सेंट्रल यूनिवर्सिटी असम सिलचर प्रो राजीव मोहन पंत नए व्याख्यान दिया ।प्रो पंत ने कहा की विद्यार्थी समय के साथ प्रबंधन को सीखे ।समय को न गवाएं तथा कमजोर विद्यार्थी जीवन में लगन से बेहतर भविष्य कर सकते है । ज्ञान सबसे बड़ी पूजी है । प्रो पंत नैनीताल निवासी , कुमाऊं विश्वविद्यालय के पुरातन छात्र रहे तथा 1982 में अर्थशास्त्र से एमए किया ।प्रो पीएनटी नए कहा की डीएसबी परिसर हमेशा से गरिमा मय रहा है तथा यहां के विद्यार्थी देश के लिए कार्य करते रहे है । प्रो पंत ने विद्यार्थी को बेहतर देश सेवा के साथ कर्मठ बनने की सीख दी। सभी विद्यार्थी को विसय में पारंगत होना होना होगा। जिससे सब्जेक्ट में नई दिशा मिल सकेगी। कुमाऊं विश्वविद्यालय शोध में बडिया काम कर रहे है ।
इस अवसर पर प्रो राजीव मोहन पंत को शॉल उड़ाकर गोल्डन जुबली वर्ष में सम्मानित किया गया। कार्य क्रम का संचालन करते हुए निदेशक विजिटिंग प्रोफेसर डॉक्टर ललित तिवारी ने प्री पंत का जीवन वृत्त प्रस्तुत किया । भूगोल विभागाध्यक्ष प्रो आर सी जोशी ने सभी का स्वागत किया तथा संकायाध्यक्ष प्रो इंदु पाठक ने सभी का धन्यवाद किया ।इस अवसर पर डॉक्टर मनीषा त्रिपाठी ,डॉक्टर मोहन लाल डॉक्टर नंदन बिष्ट डॉक्टर मासूम रेज़ा,डॉक्टर ,कृतिका बोरा , सहित ज्योग्राफी, इकोनॉमिक्स , वनस्पति विज्ञान के विद्यार्थी एवम शोधार्थी सहित कई विद्यार्थी उपस्थी रहे ।

Advertisement