त्रिदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय आर्य महावेबिनार संपन्न। वेदों का प्रकाश पूरे विश्व को देना है- डॉ.अशोक कुमार चौहान (संस्थापक अध्यक्ष एमिटी शिक्षण संस्थान) पाखंड अन्धविश्वास आज भी चुनौती है- स्वामी आर्य वेश विदेशों में भारतीय संस्कृति के प्रति अधिक जागरूकता- भुवनेश खोसला (प्रधान, अमेरिका आर्य समाज)

Advertisement

प्रकाशनार्थ समाचार

नैनीताल l केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के 46 वें वार्षिकोत्सव पर त्रिदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय आर्य महावेबिनार का ऑनलाइन आयोजन किया गया जिसमें 8 देशों अमेरिका, बांग्लादेश,मॉरिशस,दुबई, ऑस्ट्रेलिया,अफ्रीका,नेपाल आदि के प्रतिनिधि जुड़े। कार्यक्रम का शुभारंभ आचार्य अखिलेशवर जी (हरिद्वार) ने यज्ञ के साथ किया।पिंकी आर्य, नताशा कुमार (बंगलौर),कमल
मोगा नैरोबी आदि के भजन हुए। समारोह अध्यक्ष शिक्षाविद डॉ. अशोक कुमार चौहान ने कहा कि आज पूरा विश्व ज्ञान का प्यासा है उन्हें वेदों का ज्ञान आर्य समाज को देना है।आर्य युवक परिषद युवा निर्माण व संस्कार देने का कार्य कर रही हैं जो सराहनीय है। अमेरिका आर्य समाज के प्रधान भुवनेश खोसला ने कहा कि विदेशों में भारतीय संस्कृति के प्रति अत्यन्त आस्था है और सभी पर्व उत्साह पूर्ण मनाए जाते हैं। आर्य संन्यासी स्वामी आर्य वेश ने कहा कि बढ़ता हुआ पाखंड अंध विश्वास आज भी चुनौती है जिस का उत्तर आर्य जनों को देना है। ऑस्ट्रेलिया के काउंसलर सुरेन्द्र चहल ने कहा कि हमे विदेश मे रहकर अपनी बोली बोलने में गर्व होता है। बांग्लादेश से अमित आर्य ने कहा कि यहां यज्ञ,वैदिक प्रचार का कार्य सुचारू चल रहा है हमे भारत से वैदिक साहित्य के सहयोग की आवश्यकता है। नैरोबी आर्य समाज के प्रधान डा. राज कुमार सैनी ने भी कहा कि वैदिक प्रचार के लिए भारत से अच्छे विद्वान भेजे जाएं।परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कुशल संचालन किया। इस अवसर पर आर्य महिला सम्मेलन,आर्य युवा शक्ति सम्मेलन,आर्य प्रवासी सम्मेलन, दयानन्द जयंती व भावी कार्यक्रम आदि सम्मेलन आयोजित किए गए।आचार्य महेन्द्र भाई,प्रवीण आर्य ने धन्यवाद ज्ञापन किया। प्रमुख रूप से वैदिक विद्वान डॉ. जयेन्द्र आचार्य,आचार्य विष्णु मित्र वेदार्थी,आर्य रविदेव गुप्ता,प्रेम हंस ऑस्ट्रेलिया,हरिओम शास्त्री, विमलेश बंसल,दीप्ति सपरा,यशोवीर आर्य, कमाण्डर धर्मवीर, दुर्गेश आर्य,आर्यवती मॉरिशस, विमल चड्ढा नैरोबी, राजेन्द्र बेदी अमेरिका,ओम सपरा,कृष्ण कुमार यादव,डॉ. रचना चावला, प्रो. करुणा चांदना,श्रुति सेतिया आदि ने अपने विचार रखे।आर्य नेता राजेश मेहन्दीरत्ता, अमरनाथ बत्रा, सुरेश आर्य, आनन्द सिंह आर्य, स्वतंत्र कुकरेजा, आनन्द प्रकाश आर्य, वेद प्रकाश आर्य, कुसुम भण्डारी, विमला आहूजा,कपिल बब्बर, योगेन्द्र शास्त्री, रोहित सिंह आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  बजट नौकरशाही के नाम, आंकड़ों की बाजीगरी को सलाम'' बजट में बजट और दिशा का अभाव है - नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य


9716950820,9911404423

Advertisement