जाने महासचिव कौन बना, डीएसए की नई कार्यकारिणी का गठन हुआ

Advertisement
Ad

नैनीताल l जिला क्रीड़ा संघ नैनीताल की नई कार्यकारिणी का गठन हो गया है l शुक्रवार को डीएसए सभागार में मुख्य चुनाव अधिकारी नगर पालिका के प्रशासक केएन गोस्वामी की अध्यक्षता में नई कार्यकारिणी का गठन हुआ l । जिसमें 43 क्लबों के 86 सदस्य मौजूद थे। बैठक में सबसे पहले एजीएम सम्पन्न हुई। एजीएम को खेल विभाग की डिप्टी डायरेक्टर रसिका सिद्दीकी ने संबोधित किया l उन्होंने कहा कि यह क्लब 175 वर्ष पुराना है तथा यहाँ से कई खिलाड़ियों ने देश का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि खेल विभाग की ओर से डीएसए क्लब को पूरा सहयोग किया जाएगा। एजीएम के बाद चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न हुई।
जिसमें सर्वसहमति से निवर्तमान डीएसए महासचिव अनिल गडिया को फिर से महासचिव बनाया गया l उपाध्यक्ष भारतीय शहीद सैनिक स्कूल के प्रधानाचार्य बिशन सिंह मेहता व उपसचिव भुवन बिष्ट को बनाया गया।साथ ही डॉ. डीएस बिष्ट व चन्द लाल शाह को संरक्षक की ज़िम्मेदारी दी गई। बता दें कि क्लब के ज़िलाधिकारी पदेन अध्यक्ष व पालिका अध्यक्ष पदेन उपाध्यक्ष होते हैं जबकि एक उपाध्यक्ष का चुनाव किया जाता है। बैठक में सदस्यों ने कहा कि डीसा की माली हालत बहुत ज्यादा खराब है उन्होंने कहा कि पूर्व में डीएसए को कर पार्किंग से धनराशि मिलती थी लेकिन कुछ सालों पहले यह राशि अब पालिका द्वारा बंद कर दी गई है l डीएसए के पास धनराशि नहीं होने से खेलकूद प्रतियोगिताएं भी प्रभावित हो रही हैं l इसके अलावा चुनाव में हॉकी सचिव आलोक चौधरी, फुटबॉल सचिव पवन कठायत, क्रिकेट सचिव रवि जोशी, एथलेटिक सचिव गोपाल सिंह बिष्ट, बास्केटबॉल सचिव हरीश जोशी, बॉलीबाल सचिव शैलेंद्र कुमार बरगली और इंडोर गेम सचिव विरेंद्र शाह को चुना गया। नवनिर्वाचित पदाधिकारी ने कहा कि वह खेलकूद प्रतियोगिताओं को समय-समय पर आयोजित करेंगे l बैठक में पालिका के अधिशासी अधिकारी राहुल आनंद, कुमाऊं विश्वविद्यालय के क्रीडा अधिकारी डॉक्टर नागेंद्र शर्मा, डॉ महेंद्र राणा, डॉ संतोष कुमार, डॉ मनोज बिष्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मनीष जोशी, लीला सिंह बिष्ट व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन सिंह नेगी, अधिवक्ता भानुप्रताप मौनी, गोविंद सिंह बोरा शिवराज सिंह नेगी सहित 43 क्लबों के 86 सदस्य मौजूद रहे। बैठक का संचालन मनोज कुमार ने किया।

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement