ब्रह्मांड की अमूल्य निधि है मां , मां का त्याग शब्दो में बया नही किया जा सकता — गीता बिष्ट

Advertisement

भीमताल l हरमन माइनर स्कूल भीमताल में मातृ दिवस पर आयोजित कार्यक्रम धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि जिला पंचायत सदस्य, पूर्व ब्लॉक प्रमुख भीमताल गीता बिष्ट, मीनाक्षी कांडपाल पूर्व छात्रा सहायक श्रम आयुक्त उत्तराखंड , दीपक सक्सेना एसओएस बाल ग्राम निदेशक, प्रधनाचार्य केo डीo सिंह, संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। समारोह की जिला पंचायत सदस्य गीता बिष्ट ने शुभ कामनाएं दी। नन्हे मुन्ने बच्चो द्वारा मातृ दिवस पर रंगारंग कार्यक्रम किए रंगारंग कार्यक्रमो ने उपस्थित माताओं का मन मोह लिया। बताया जीवन में मां का महत्व अहम है मां का दर्जा ईश्वर से बड़कर है। जिला पंचायत सदस्य गीता बिष्ट ने कहा मां परिवार का मजबूत स्तंभ होती है अच्छे संस्कार द्वारा संतान के भविष्य की नीव मजबूत करती है। मां के त्याग को शब्दो में बया नही किया जा सकता मां का आँचल अपनी संतान के लिए कभी छोटा नहीं पड़ता। माँ का प्रेम अपनी संतान के लिए इतना गहरा और अटूट होता है कि माँ अपने बच्चे की खुशी के लिए सारी दुनिया से लड़ लेती है। मां का हमारे जीवन में बहुत बड़ा महत्व है, मां बिना ये दुनियां अधूरी है मातृ दिवस मनाने का प्रमुख उद्देश्य मां के प्रति सम्मान और प्रेम को प्रदर्शित करना भी है। पूर्व छात्रा मीनाक्षी कांडपाल ने कहा मां अपने बच्चों की सेहत देखभाल वह उज्जवल भविष्य के लिए पूरा जीवन न्यौछावर कर देती है। इसके बदले में मां को सिर्फ बच्चो का स्नेह व सम्मान चाहिए प्रधानाचार्य के डी सिंह ने कहा मां शब्द को समर्पण और बया नही किया जा सकता मां ब्रह्मांड की अदभुत कृति अमूल्य निधि है। एसओएस बाल गृह की माताओ गंगा जोशी, पुष्पा जोशी, कमला पांडे ने अपने अपने विचार रखे पूर्व छात्र देवाशीस जोशी ने छात्र को शिक्षा के साथ संस्कार वान होना चाहिए। अपने जीवन अनुभव को साझा किया। अतिथियों ने बाल गृह की माताओं को सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन कुo ज्योति, स्वरूप कौर, ज्योति फुलारा ने किया प्रधानचार्य ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। कार्यकर्म में कुo टीना, कुo सिद्धी रानी, कुo रोशनी कलाकृतियां अतिथियो को भेट की कार्यक्रम में शिक्षक शिक्षिकाओं विद्याथियो सहित अनेक लोग मौजूद रहे

यह भी पढ़ें 👉  इग्नू में जुलाई 2024 सत्र में नए प्रवेश के लिए ऑनलाइन पोर्टल द्वारा आवेदन शुरू।
Advertisement