ऑल सेंट्स कॉलेज में शनिवार को शिक्षक विकास कार्यशाला का आयोजन किया गया

Advertisement

नैनीताल l ऑल सेंट्स कॉलेज में, नैनीताल में शनिवार को शिक्षक विकास कार्यशाला का आयोजन किया गया। क्राइस्ट कॉलेज, गाजियाबाद की मनोविज्ञान की प्रोफेसर हेमा और प्रोफेसर ए साबू जॉन ने इस कार्यशाला का संचालन किया।

कार्यशाला में कक्षा में योग्यता, स्वायत्तता और संबद्धता: आत्मनिर्णय सिद्धांत का उपयोग करके छात्रों की प्रेरक प्रक्रियाओं को समझने के ऊपर प्रकाश डाला गया।
साथ ही सामाजिक दृष्टिकोण पहचान, विचार, बातचीत, और विचारधारा का शिक्षा पर प्रभाव पर चर्चा भी की गई। इसके अलावा शिक्षकों की शिक्षण, अनुसंधान और प्रबंधन क्षमताओं को बढ़ाने पर भी जोर दिया गया जो कि व्यवहार कौशल में सुधार करने के तरीके सीखने में दक्षता विकसित करने के लिए सक्षम बनाता है।
कार्यशाला में डॉ. सेलिगमैन का परमा सिद्धांत और इसके पाँच बिल्डिंग ब्लॉक – सकारात्मक भावना, जुड़ाव , संबंध , मतलब , और एक उपलब्धि, जो कौशल विकास को बढ़ावा देते हैं और कार्य क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने में सहायता करते हैं, पर भी चर्चा की गई।
इस कार्यशाला में विद्यालय के सभी शिक्षकों ने प्रतिभाग किया। अंत में ऑल सेंट्स कॉलेज की शिक्षिका सुनीता चौहान ने प्रशिक्षकों को प्रतीक चिन्ह भेंट किए।

Advertisement