नैनी महिला एवं बाल विकास समिति के सहयोग से किशोरियों के लिए एपण कार्यशाला शुरू

Advertisement


नैनीताल। नैनी महिला एवं बाल विकास समिति सूखाताल के तत्वाधान व केनरा बैंक के सहयोग से किशोरियों के लिए एपण कार्यशाला का आयोजन किया गया। एक महिने की कार्यशाला में किशोरियों को एपण बनाना सिखाया जाएगा।
शुक्रवार को संस्था की ओर से सूखाताल में कार्यशाला की शुरूआत की गई। मुख्य अति​​​थि केनरा बैंक के शाखा प्रबंधक मनीष खीमाल ने कार्यशाला के दौरान ​किशोरियों को एपण की जानकारी देते हुए कहा कि कुमाऊं में एपण का विशेष महत्व रहा है। पहले से गांव घरों में गेरू व चावल से चौकी, दहलीज व दीवारों में एपण बनाते थे। लेकिन बाजारवाद के चलते आज गेरू वाले एपण की जगह स्टीकरों वाले एपणों ने ले ली है। इस दौरान प्र​शिक्षक सुनीता आर्य व जिला उपभोक्ता आयोग की सदस्य विजय लक्ष्मी थापा ने बताया कि किशोरियों को एपण के साथ ही पुराने समय में गेरू व चावल से बनने वाले एपण की भी जानकारी दी जाएगी। साथ ही उसके महत्व के बारे में भी बताया जाएगा। ताकि कुमाऊं से विलुप्त होते एपण के अ​स्तित्व को बचाया जा सके। संस्था समन्वयक शैलजा सक्सेना ने बताया कि कार्यशाला एक महिने तक चलाई जाएगी। जिसमें भारतीय शहीद सैनिक विद्यालय, निशांत व एसडेल तीन स्कूलों की 30 किशोरियों को एपण की जानकारी दी जाएगी।

Advertisement