“वीवीआईपी कल्चर” से नैनीताल नगर को अवमुक्त रखा जाए वरिष्ठ कांग्रेस नेता त्रिभुवन फर्त्याल

Advertisement
Ad

नैनीताल l वरिष्ठ कांग्रेस नेता त्रिभुवन फर्त्याल ने नगर में ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन (15 मई -30 जून) में पर्यटकों सहित स्थानीय लोगों के रिश्ते-नाते दारों की आवक चरम पर होती है। विगत 7-8 वर्षों से ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन में पर्यटकों के वाहनों का दबाव सर्वाधिक रह रहा है। उपरोक्त अवधि में अतिविशिष्ट व्यक्तियों का आवागमन होने पर यातायात व्यवस्था पूर्ण रूप से रसातल पर चली जाती है। पूर्व में भी कई मंचो पर नैनीताल नगर को उक्त ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन की अवधि में “वीवीआईपी कल्चर” से अवमुक्त रखने की मांग की गयी है, जिससे न केवल स्थानीय लोगों को बल्कि पर्यटकों सहित संबंधित सरकारी विभागों को बड़ी राहत प्रदत्त होगी। उन्होंने कहा कि “वीवीआईपी” मूवमेंट के दौरान यातायात को रोकने पर ना केवल पर्यटकों एवं स्थानीय वासियों को बल्कि दफ्तर आने-जाने और विशेषकर स्कूली बच्चों को अत्यधिक संघर्ष से जूझने के लिए विवश होना पड़ता है। पुनः राज्य सरकार सहित समस्त अतिविशिष्ट भद्रजनों से आग्रह है कि ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन की अवधि में नैनीताल नगर की भौगोलिक स्थिति एवं वर्तमान परिदृश्य को दृष्टिगत रखते हुए “वीवीआईपी कल्चर” से दृष्टिगत रखते हुए “वीवीआईपी कल्चर” से अवमुक्त रखा जाए। बतौर सामान्य पर्यटक समस्त आगुंतकों का नैनीताल नगर हृदय से स्वागत करता है। बतौर सामान्य पर्यटक समस्त आगुंतकों का नैनीताल नगर हृदय से स्वागत करता है।

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement