डीएसबी परिसर, कुमाऊं विश्वविद्यालय के नौसेना एनसीसी कैडेटों ने अखिल भारतीय वार्षिक प्रशिक्षण शिविर 2024 में एक और उपलब्धि हासिल की

Advertisement
Ad

नैनीताल l कौशल, अनुशासन और दृढ़ संकल्प के उल्लेखनीय प्रदर्शन में, कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर के नौसेना एनसीसी कैडेटों ने भारतीय नौसेना अकादमी, एजीमाला, केरल में आयोजित अखिल भारतीय वार्षिक प्रशिक्षण शिविर 2024 में उत्कृष्ट सफलता हासिल करके एक और उपलब्धि हासिल की है।
5 यूके नेवल यूनिट एनसीसी के कमांडिंग ऑफिसर कैप्टन चन्दर विजय नेगी ने बताया कि कैडेटों के प्रदर्शन और उत्कृष्टता के प्रति प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करते हुए उत्तराखंड निदेशालय सात पदकों के साथ विजयी हुआ। उपलब्धियों में, तीन स्वर्ण पदक, दो रजत पदक और दो कांस्य पदक ने दल की समग्र सफलता में योगदान दिया। शिप मॉडलिंग प्रतियोगिता में, उत्तराखंड निदेशालय के कैडेटस ने अपने शिप मॉडलिंग और तकनीकी कौशल का प्रदर्शन करके कैडेटों के टीम वर्क से तीसरा स्थान हासिल किया।
कुमाऊं विश्वविद्यालय के एनसीसी अधिकारी लेफ्टिनेंट डॉ. रीतेश साह ने बताया कि 05 यूके नेवल यूनिट एनसीसी के सीनियर कैडेट कप्तान और डीएसबी कैंपस कुमाऊं विश्वविद्यालय, नैनीताल की छात्रा किरण दानू, जिन्होंने विभिन्न प्रतियोगिताओं में असाधारण प्रतिभा दिखाई। किरण दानू ने न केवल शारीरिक कौशल बल्कि कलात्मक कुशलता का प्रदर्शन करते हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम और ड्रिल टेस्ट श्रेणियों में दो स्वर्ण पदक जीते। इसके अतिरिक्त, बोट पुलिंग प्रतियोगिता में रजत पदक और बोट रिगिंग प्रतियोगिता में कांस्य पदक ने दानू की बहुमुखी प्रतिभा और समर्पण को दिखाया। पिछले वर्ष सीनियर कैडेट कैप्टन किरण दानू नई दिल्ली में एनसीसी गणतंत्र दिवस परेड में कर्तव्यपथ पर मार्चिंग दल का हिस्सा भी थी।
डीएसबी कैम्पस कुमाऊँ विश्वविद्यालय, नैनीताल की कैडेट कैप्टन भावना भौर्याल ने अन्य प्रतियोगिताओं में उल्लेखनीय प्रर्दशन किया। भौर्याल ने सटीकता और अनुशासन का प्रदर्शन करते हुए ड्रिल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किया। उन्होंने बौद्धिक अंतर्दृष्टि का प्रदर्शन करते हुए वाद-विवाद प्रतियोगिता में रजत पदक और फायरिंग प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता।
कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. दीवान एस रावत ने कहा भारतीय नौसेना अकादमी, एजीमाला, केरल में आयोजित अखिल भारतीय वार्षिक प्रशिक्षण शिविर 2024 में डीएसबी परिसर, कुमाऊं विश्वविद्यालय के नेवल एनसीसी कैडेटों की सफलता न केवल उनकी व्यक्तिगत उपलब्धियों को दर्शाती है, बल्कि भविष्य के छात्रों को अच्छी तरह से प्रशिक्षित, अनुशासित और सक्षम बनाने के लिए संस्थान की प्रतिबद्धता को भी रेखांकित करती है। पूरा परिसर उनकी उपलब्धियों पर गर्व करता है और भविष्य में एनसीसी कैडेटों को और उपलब्धियां के लिये शुभकामनाए प्रदान करते है।।
इन कैडेटों की उपलब्धियों पर कुलसचिव दिनेश चंद्रा, प्रो. नीता बोरा शर्मा (निदेशक, डीएसबी कैंपस), प्रो. संजय पंत (डीन छात्र कल्याण), मेजर प्रो. एचसीएस बिष्ट (चीफ प्रॉक्टर), प्रो. ललित तिवारी (निदेशक विजिटिंग फैकल्टी), प्रो. दिव्या उपाध्याय जोशी (निदेशक यूजीसी-एमएमटीटीसी), डॉ. महेंद्र राणा (परीक्षा नियंत्रक), डॉ. नागेंद्र शर्मा, डिप्टी रजिस्ट्रार दुर्गेश डिमरी, डॉ. विजय कुमार, डॉ. गगन दीप होठी, नौसेना इकाई के पीआई स्टाफ और सिविल स्टाफ और एनसीसी कैडेट्स ने प्रसन्न्ता व्यक्त करते हुए शुभकामनाए व्यक्त की है।

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement