पुरानी पेंशन बहाली के लिए देशभर से लाखों कर्मियों ने दिल्ली के रामलीला मैदान में हुंकार भरी

Advertisement

नैनीताल l पुरानी पेंशन बहाली के लिए देशभर से लाखों कर्मियों ने रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में हुंकार भरी है। केंद्र और राज्य सरकारों के कर्मचारी संगठनों के नेताओं ने ‘पेंशन शंखनाद महारैली’ में भाग लिया। हालांकि रैली का आयोजन नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम (एनएमओपीएस) के बैनर तले हुआ है। पर इसमें देश के सभी संवर्गों के कर्मचारी शामिल हुए।जानकारी देते हुए उत्तराखंड विश्वविद्यालय कर्मचारी महासंघ के प्रतिनिधि एवं कुमाऊं विश्वविद्यालय डी एस बी परिसर कर्मचारी संघ के अध्यक्ष गणेश बिष्ट ने जानकारी देते हुए बताया कि नई दिल्ली का उक्त रैली अभूतपूर्व रही है और सरकार को अब चेतना चाहिए और कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाल कर।देनी चाहिए। गणेश बिष्ट ने बताया कि राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कर्मचारी भी इसमें उत्तराखंड विश्वविद्यालय कर्मचारी महासंघ की अपील पर शामिल हुए। कुमाऊं विश्वविद्यालय से कई कर्मचारी इसमें शामिल हुए वही विश्वविद्यालय के शिक्षकों ने भी इसके सफल आयोजन हेतु भरपूर सहयोग दिया। उन्होंने बताया कि इस रैली में कुमाऊं विश्वविद्यालय से संघ के सचिव राजेंद्र ढैला, मोहन बिष्ट, अमित कुमार , अनूप कुमार, शामिल हुए वहीं डा भुवन शर्मा राज्य कर्मचारी संघ के संरक्षक भूपाल सिंह करायत एवम dr एल एस रौतेला सहित सभी शिक्षकों का पूर्ण सहयोग रहा। महासंघ के महामंत्री डॉ लक्ष्मण सिंह रौतेला ने बताया कि उत्तराखंड के आयुर्वेद विश्वविद्यालय सहित अन्य विश्वविद्यालयों से भी कर्मचारियों ने रैली में भागीदारी की और जल्द ही इस हेतु सभी विश्वविद्यालयों में प्रतिनिधियों को नामित भी किया जाएगा।

Advertisement