गुणादित्य पाली में गुलदार का आतंक, जनप्रतिनिधियों ने की निजात दिलाने की मांगआतंक-गांव में दर्जनभर से अधिक मवेशियों को बनाया निवाला-एक नहीं बल्कि कई गुलदार गांव की आबादी क्षेत्र में घूम रहे

Advertisement


अल्मोड़ा। जिले के धौलादेवी ब्लॉक स्थित ग्राम पंचायत गुणादित्य एवं पाली में इन दिनों गुलदार का आतंक बना हुआ है। यहां एक नहीं बल्कि कई गुलदार घूम रहे हैं। बीते कुछ ही दिनों में यहां गुलदार ने करीब दर्जनभर से अधिक मवेशियों को निवाला बनाया है। साथ ही किसानों पर काश्तकारी के दौरान गुलदार हमला करने का प्रयास भी कर चुके हैं। यही नहीं स्कूली बच्चों समेत बुजुर्गो के लिए गुलदार खतरा बने हुए हैं। स्थानीय लोगों ने गुलदार के आतंक से निजात दिलाए जाने की मांग की है।
ग्राम पंचायत गुणादित्य की ग्राम प्रधान सुनीता पालीवाल की ओर से वन विभाग के उच्चाधिकारियों को पत्र प्रेषित किया गया गया है। जिसमें कहा गया है, कि क्षेत्र में गुलदार का आतंक लगातर बढ़ रहा है। हालांकि इस संबंध में पूर्व में भी विभागीय अधिकारियों को सूचना दी जा चुकी है। लेकिन अबतक मामले में संज्ञान नहीं लिया गया है। उन्होंने कहा है, कि ग्रामसभा में इस बीच कई स्थानों पर गुलदार दिखाई दे रहे हैं। जोकि आबादी वाले हिस्सों तक भी पहुंच रहे हैं। गांव में बकरी पालन समेत काश्तकारी कर जीविका चलाने वाले ग्रामीणों के कई मवेशियों को गुलदार निवाला बना चुके हैं। ऐसे में अब आबादी की ओर ग्रामीणों के लिए भी खतरा बढ़ गया है। यहां रोजाना ग्रामीणों को दिन में ही गुलदार दिखाई दे रहे हैं। स्कूल दूर होने के कारण बच्चे रोजाना पैदल दो किमी जंगल से होते हुए विद्यलाय जाते हैं। ऐसे में बच्चों के साथ ही गांव की महिलाओं एवं बुजुर्गो के लिए खतरा बना हुआ है। उन्होंने गांव में तेजी से बढ़ रहे गुलदार के आतंक से निजात दिलाए जाने की मांग की है। सामाजिक कार्यकर्ता जीवन पालीवाल समेत अन्य ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों से गांव में पिंजड़ा लगाने तथा वनकर्मियों की ओर से गश्त किए जाने की मांग की है। साथ ही प्रभावित ग्रामीणों को आंकलन के बाद मुआवजा दिए जाने की भी मांग उठाई है।

Advertisement