नैनैनीताल में पांच लाख लीटर पानी सप्लाई घटाई गई, जल संस्थान ने पेयजल की बढ़ती मांग के देखते हुए रोस्टर लागू किया, लोगों के यहां पानी की सप्लाई कम होने से बढ़ रही परेशानी

Advertisement


नैनीताल नैनीताल में जल संस्थान ने पानी की सप्लाई में पांच लाख लीटर पानी कम कर दिया है। अब 13 एमएलडी के बजाए अब आठ एमएलडी पानी ही सप्लाई किया जा रहा है। इस कारण पानी की सप्लाई के समय में करीब आधे घंटे तक की कमी आ गई है। सामान्य तौर पर नैनीताल में रोजान दो घंटे पानी की सप्लाई की जाती है।
बढ़ती गर्मी के बीच नैनीताल में पेयजल किल्लत भी बढ़ रही है। पर्यटन सीजन के कारण पानी की मांग दोगुना तक बढ़ने जा रही है। पर पानी की बढ़ती मांग को नियंत्रित करने के लिए जल संस्थान ने अपनी सप्लाई प्लानिंग में बदलाव किया है। जल संस्थान का दावा है कि नैनीताल में गर्मी में पानी की किल्लत नहीं है। पर आने वाले दिनों में रोजाना की मांग 16 एमएलडी तक पहुंच जाएगी। इसलिए अभी से पानी बचाने के लिए दैनिक सप्लाई में से पांच एमएलडी कम किया जा रहा है। लोगों को पानी तो मिलेगा पर बिना फिजूल की पानी की बर्बादी भी इससे कम होगी। नैनीझील का जलस्तर 1.10 फीट नैनीताल में बारिश ना होने के कारण नैनी झील का जलस्तर तीन सालो के निम्न स्तर पर पहुंच गया है। झील में डेल्टा दिखने के साथ पेयजल समस्या भी शुरू हो रही है। झील का स्तर सोमवार को एक फिट दस इंच रेकार्ड किया गया है। जल संस्थान के सहायक अभियंता डीएस बिष्ट का कहना है कि निरंतर झील का जलस्तर कम हो रहा है। नैनीताल में पेयजल की किल्लत नहीं है पर आने वाले दिनों में मांग में उछाल आएगा। इसलिए दैनिक सप्लाई को कुछ कम किया गया है। जिससे कि पानी की बर्बादी को रोका जा सके।

Advertisement