सेवानिवृत्त होने पर खेल सहायक गोपाल सिंह भंडारी को दी गई भावभीनी विदाई, जताया आभार

Advertisement
Ad

नैनीताल । कुमाऊं विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में कार्यरत खेल सहायक श्री गोपाल सिंह भंडारी को सेवानिवृत्ति के बाद विदाई दी गई। वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो० संतोष कुमार की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में सभी कर्मचारियों ने उनके व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए उन्हें एक कर्तव्यनिष्ठ एवं मिलनसार कर्मचारी बताया। विदाई समारोह में प्रभारी कुलसचिव श्री दुर्गेश डिमरी ने कहा कि श्री गोपाल सिंह भंडारी ने अपने सेवाकाल में हमेशा अपनी कार्य-कुशलता और संवेदनशीलता का परिचय दिया है। उन्होंने कहा कि सरकारी सेवक के जीवन में सेवानिवृत्ति का दिन भी महत्वपूर्ण होता है। व्यक्ति को इसे भी आनंद के रूप में लेना चाहिये। उन्होंने श्री गोपाल सिंह भंडारी के उज्जवल भविष्य की कामना की। परीक्षा नियंत्रक डॉ० महेंद्र राणा एवं क्रीड़ाधिकारी डॉ० नागेंद्र शर्मा ने श्री गोपाल सिंह भंडारी के साथ किये गये कार्य अनुभव को साझा करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय को हमेशा श्री भंडारी की कमी महसूस होती रहेगी। कार्यक्रम का संचालन करते हुए कर्मचारी संघ के अध्यक्ष डॉ० मोहित सनवाल ने कहा कि सेवानिवृत्ति एक सरकारी प्रक्रिया है, जो सभी सरकारी कर्मी के साथ लागू होती है। परंतु श्री गोपाल सिंह भंडारी के साथ जितने दिन भी मैंने कार्य किया बहुत कुछ इनसे सीखने का मौका मिला। विदाई समारोह में वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो० संतोष कुमार, प्रभारी कुलसचिव श्री दुर्गेश डिमरी, परीक्षा नियंत्रक डॉ० महेंद्र राणा एवं क्रीड़ाधिकारी डॉ० नागेंद्र शर्मा ने श्री गोपाल सिंह भंडारी को शाल ओढ़ाकर एवम स्मृति चिन्ह देकर समानित किया।स अवसर पर उप कुलसचिव डॉ० संजीव कुमार, सहा० कुलसचिव डॉ० बृजभूषण फर्स्वाण, सहा० कुलसचिव शमशेर सिंह, सहा० कुलसचिव राकेश कुमार विश्वकर्मा, जगदीश चंद्र, नवल बिनवाल, श्री यशवंत कुमार आदि उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement