डी०एस०बी ० परिसर के अंग्रेजी विभाग के स्नातक स्नाकोत्तर के छात्र छात्राओं के द्वारा महाकवि कालीदास रचित अभिज्ञान शकुंतलम का प्रस्तुतिकरण डॉक्टर दीपिका पंत के दिशा निर्देशन में किया गया

Advertisement

नैनीताल l डी०एस०बी ० परिसर के अंग्रेजी विभाग के स्नातक स्नाकोत्तर के छात्र छात्राओं के द्वारा महाकवि कालीदास रचित अभिज्ञान शकुंतलम का प्रस्तुतिकरण डॉक्टर दीपिका पंत के दिशा निर्देशन में किया गया। इस नाटक में प्रकृति, श्रृंगार और नारीवादी विषयो का भव्य प्रस्तुतिकरण किया गया। दुष्यंत ,साकुंतला ,राजा भारत के मुख्य पात्रों पर आधारित यह नाटक बहुत प्रसिद्ध है जो साहित्य में भी समलित किया गया है । मुख्य अतिथि नाट्य जगत एवम रंगकर्मी कलाकार मिथलेश पांडे द्वारा अंग्रेजी विभाग के छात्रों के इस प्रयास की प्रशंसा की गई और आगे भी इस पहल को जारी रखने की बात कही गई। नाटक को फिर से जागृत करने पर उन्होंने इंग्लिश विभाग को साधुवाद दिया । कार्य क्रम का शुभारंभ मिथिलेश पांडे ,प्रो एलएम जोशी ,प्रो संजय पंत ,प्रो ललित तिवारी ने दीप प्रज्वलन करके किया ।विद्यार्थियों ने स्वागत मै वंदना प्रस्तुत की ।विद्यार्थियों के इस नाटक का मंचन ए एन सिंह सभागार में हुआ जहा दर्शक मंत्रमुक्ध हो गए । । इस अवसर पर निदेशक प्रो नीता बोरा ने सभी का उत्साह वर्धन किया । प्रमोद बिनवाल -राजा दुष्यन्त, सत्यांशा सती -शकुंतला, धनंजय पाठक -सूत्रधार, दीपक बीनवाल- विदूषक, आर्यन भैसोड़ा- ऋषि कनवा, गौतमी-निकिता तिवारी
युवराज सिंह -भारत, के द्वारा मुख्य किरदार निभाया गया
कार्यक्रम में डायरेक्टर प्रो नीता बोरा शर्मा, डी ०एस० डबल्यू प्रो संजय पंत, डायरेक्टर वी ० पी ० डी ० प्रो ललित तिवारी, डीन प्रो पदम बिष्ट, अंग्रेजी, विभागाध्यक्ष प्रो एल ० एम ० जोशी, प्रो. निर्मला ढेला, प्रो कल्पना अग्रहरी, प्रो चंद्रकला रावत, प्रो संजय घिल्डियाल, डाक्टर मनीषा त्रिपाठी, डॉक्टर हरिप्रिया पाठक, डाक्टर अनिता आदि उपस्थित रहे। परिसर के छात्र छात्राओं द्वारा इस प्रस्तुतिकरण का आनंद लिया।

Advertisement