शासन से अनुमति न मिलने से पालिका नहीं कर पा रही टेंडर, पालिका कर्मचारियों का वेतन लंबित

Advertisement


नैनीताल। आचार संहिता लगने के बाद से पालिका के बहुत से काम रुक गए हैं। जिससे पालिका कर्मचारियों को परेशानीयो का सामना करना पड़ रहा है।
शासन से अनुमति न मिलने के कारण डीएसए पार्किंग का टेंडर , भवाली में लगने वाला कूड़ा रिसाइकल प्लांट का टेंडर और डोर टू डोर का टेंडर रुका हुआ है। पालिका की ओर से टेंडरो को लेकर पुरी तैयारी है।लेकिन पालिका को शासन से इन टेंडरों को जारी करने की अनुमति नहीं मिल रही है। जिससे पालिका के साथ साथ स्थानीय लोगों को भी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है।
वहीं पालिका कर्मचारियों को वेतन न मिलने के कारण पालिका कर्मचारी भी परेशान हैं। पालिका कर्मचारियों का वेतन डीएसए पार्किंग टेंडर के भरोसे पर है।
पार्किंग का टेंडर नहीं होने के कारण पालिका ही डीएसए पार्किंग का संचालन कर रही है। जिससे पालिका में कर्मचारी की भी कमी हो रही है। वहीं गर्मी के मौसम के दौरान सरोवर नगरी में पर्यटकों की आवाजाही भी बढ़ रही है। अगर डोर टू डोर का टेंडर भी समय से नहीं हुआ तो शहर में गन्दगी बढ़ने का ख़तरा भी बना हुआ है। पालिका अधिशासी अधिकारी राहुल आनंद का कहना है कि शासन से अनुमति न मिलने के कारण पालिका के बहुत से कार्य लंबित हैं। जिसके कारण पालिका कर्मचारियों को भी परेशानीयो का सामना करना पड़ रहा है। पालिका के समय से सभी कार्यों की अनुमति मिल जाएगी तो कर्मचारियों और लोगों की समस्याओं को दूर कर दिया जाएगा।

Advertisement