घनश्याम ओली चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी के बच्चों द्वारा रई की यक्षवती नदी में चलाया गया सफाई अभियान

Advertisement
Ad

पिथौरागढ़ l पिथौरागढ़ के रई क्षेत्र की शोभा बढ़ाती यक्षवति नदी अब रई गाड़ के नाम से जानी जाती है। हालात ये हैं की पूरे शहर का कचड़ा अब इसी नदी में गिरता है और बहकर रई के मैदान में पहुंचता है। ऐसी जगह जहां कभी रई झील बनने का प्रस्ताव था आज वहां हर तरफ कचड़ा ही कचड़ा है। आज घनश्याम ओली चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी के बच्चों द्वारा अभियान चलाकर रई गाड़ की सफाई की गई और आसपास के लोगों को भी इस अभियान से जोड़ा गया। संस्था लगातार कई वर्षों से सफाई अभियान चलाकर लोगों को जागरूक कर रही है और इस वर्ष भी संस्था ने नगरपालिका के साथ मिलकर यह अभियान किया जो की पूरे सप्ताह पिथौरगढ़ में चलाया जाएगा। संस्था की मुस्कान बताती हैं कि यह कूड़ा तभी साफ होगा जब सभी लोग कूड़े को कूड़ेदान में डालेंगे पिथौरागढ़ की जनता खुद ही हमारी धरोहर को दूषित करने का काम कर रही है। अगर हम मिलकर कर कार्य करें तो इसे साफ किया जा सकता है। संस्था की लक्ष्मी बताती हैं की यक्षवती पहले पिथौरागढ़ को धन धान्य से भरने का कार्य करती थी मगर हमारी लापरवाही ने इसे दूषित और प्रदूषित कर दिया है। उन्होंने कहा की संस्था के सारे बच्चे लगातार इसे साफ करने का कार्य करेंगे और लोगों को भी इसके लिए जागरूक करेंगे । संस्था के अध्यक्ष ने बताया की संस्था सफाई अभियान के कार्यकर्म लगातार चला रही है और नुक्कड़ नाटक आदि के माध्यम से लोगों को इस से जोड़ रही है और यह अभियान लगातार जारी रहेगा। इस अभियान में नगरपालिका के सफाई कर्मचारी एवं गिरीश ओली और सोसाइटी के बच्चे लक्ष्मी,मंजू ,मुस्कान,प्रेमा, नीरा, नेहा,पूजा, विजय, कृष्णा सामिल हुए

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement