सामाजिक कार्यकर्ता डॉ० मधु सिंह द्वारा कुमाऊं विश्वविद्यालय को दान दी गई किताबें विश्वविद्यालय की ओर से गोद लिए गये पांच गांव में स्थापित होगी सामुदायिक पुस्तकशाला – कुलपति प्रो० दीवान एस० रावत

Advertisement
Ad

नैनीताल l सामाजिक कार्यकर्ता डॉ० मधु सिंह द्वारा कुमाऊं विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में कुलपति प्रो० दीवान एस० रावत को व्यक्तित्व विकास, भाषा, व्याकरण एवं प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित किताबें दान दी। डॉ० मधु सिंह नैनीताल में लेक सिटी नामक गेस्ट हाउस की संचालिका है और सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर प्रतिभाग करती रही है। इस अवसर पर कुलपति प्रो० दीवान एस० रावत ने कहा कि किताबें हमारी सच्ची मित्र हैं। किताबें हमारी समस्याओं का समाधान कर हमारा मार्गदर्शन करती हैं। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार आत्मा के बिना शरीर खाली रहता वैसे ही किताबों के बिना घर खाली रहता है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय की ओर से गोद लिए गये पांच गांव में सामुदायिक पुस्तकशाला स्थापित करने की योजना है, जिसके लिए शीघ्र ही कमेटी का गठन किया जायेगा। इस समिति में 5-6 विद्यार्थियों को भी सह सदस्य बनाया जाएगा। सामुदायिक पुस्तकशाला का संचालन प्राध्यापकों की निगरानी में विद्यार्थी ही करेंगे। यह व्यवस्था परिसरों में संचालित लाइब्रेरी सुविधा से अलग होगी। इस पुस्तकशाला की स्थापना के लिए वांछित पुस्तकों को ‘डोनेट ए बुक’ अभियान से एकत्रित किया जाएगा। इस अवसर पर कुलसचिव श्री दिनेश चन्द्रा, श्री एल०डी० उपाध्याय आदि उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement
Ad Ad
Advertisement
Advertisement
Advertisement