वनस्पति विज्ञान विभाग मे बडिंग बोटैनिस्ट कार्यक्रम हुआ आयोजित

Advertisement


नैनीताल l डीएसबी परिसर कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल के वनस्पति विज्ञान विभाग में शनिवार को बडिंग बोटैनिस्ट कार्यक्रम हुआ l जिसमें एम एससी प्रथम वर्ष (प्रथम एवम द्वितीय सेमेस्टर) में सर्वाधिक अंक हासिल करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। पुरुस्कार स्वरूप 5000 रुपए का चेक तथा प्रमाण पत्र दिया गया। वनस्पति विज्ञान की पूर्व छात्रा डॉक्टर अंजू वर्मा ने एक लाख 5 हजार रुपए देकर इस पुरस्कार को प्रारंभ कराया। वर्ष 2022 के लिए अक्षिता भट्ट को बडिंग बोटैनिस्ट पुरस्कार दिया गया। जिन्होंने 8.57 सीजीपीए प्राप्त कर प्रथम स्थान प्राप्त किया, अंजलि रावत ने 8.31 सीजीपीए, रीतिका जोशी ने सीजीपीए प्राप्त कर द्वितीय तथा तृतीय स्थान स्थान प्राप्त किया। मुख्य अतिथि के रूप में प्रोफेसर दीवान सिंह रावत, माननीय कुलपति कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल, प्रोफेसर पी.सी. जोशी, पूर्व कुलपति दिल्ली विश्वविद्यालय दिल्ली एवम श्री आर. एन. वत्स, वरिष्ठ अधिवक्ता उच्चतम न्यायालय दिल्ली कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। कार्यक्रम में विभागाध्यक्ष प्रोफेसर एस एस बर्गली ने सभी का स्वागत किया । इस अवसर पर विभागाध्यक्ष प्रोफेसर एस एस बर्गली द्वारा प्रोफेसर दीवान सिंह रावत, माननीय कुलपति कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल को साल उड़ाकर एवं अन्य अतिथियों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन एससी तृतीय समेस्टर की छात्रा प्रांजलि तिवारी द्वारा किया गया। अतिथियों ने विद्यार्थियों से बेहतर रचनात्मक तथा उत्कृष्ट कार्य करने तथा अच्छा व्यहार करने को कहा।जिससे राष्ट्र, राज्य एवम विश्वविद्यालय का नाम गौरवान्वित हो। प्रोफेसर एस एस बर्गली द्वारा सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।इस अवसर पर डॉक्टर अंजू वर्मा को विशेष धन्यवाद दिया, कार्यक्रम में प्रोफेसर किरण बर्गली, प्रोफेसर नीलू लोधियाल, प्रोफेसर अनिल बिष्ट, डॉक्टर कपिल खुल्बे, डॉक्टर हर्ष चौहान, डॉक्टर नवीन पांडे, डॉक्टर प्रभा पंत, डॉक्टर हेम जोशी, डॉक्टर हिमानी कार्की, विभाग के कर्मचारी श्री जगदीश पपने, श्री गोपाल सिंह बिष्ट, श्री खीम सिंह, श्री संतोष कुमार, श्री वीरेंद्र सिंह बिष्ट, श्री मोहित खाती, श्रीमती लीला, श्रीमती सपना, शोध छात्र, एमएससी तृतीय एवं चतुर्थ समेस्टर के विद्यार्थी उपस्थित रहे ।

Advertisement