अपूर्व मेहता ने दक्षिण अमेरिका के बोलिवियन एंडीज़ में स्थित इलिमानी शिखर पर फतह हासिल की

Advertisement

नैनीताल । नैनीताल मूल के अमेरिकी नागरिक अपूर्व मेहता ने दक्षिण अमेरिका के बोलिवियन एंडीज़ में स्थित इलिमानी शिखर पर 28 अप्रैल को फतह हासिल की है । यह शिखर बोलीविया के कोर्डिलेरा रियल श्रेणी का सबसे ऊँचा शिखर है, जो लगभग 21,122 फ़ीट (6,438 मीटर) की ऊँचाई पर स्थित है।
ऐमारा संस्कृति “ला पाज़” के गार्डियन रूप में पूजित यह शिखर इलिमानी शहर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस शिखर की चढ़ाई में काफी बर्फबारी और कटीले रेज़ों का सामना करना पड़ता है । इस बेहद कठिन शिखर को जीतने के लिए कठोर श्रम और संघर्ष की जरूरत होती है। अपूर्व मेहता ने 14,764 फ़ीट (4,500 मीटर) की आधार शिविर से चढ़ाई की शुरुआत करते हुए 18,209 फ़ीट (5,550 मीटर) की उच्च शिविर पर 28 अप्रैल की सुबह सूर्योदय के समय पहुंचे ।बता दें कि पिछले दो हफ्तों में, अपूर्व मेहता ने 19,974 फ़ीट (6,088 मीटर) की ऊँचाई पर हुयाना पोटोसी और 17,881 फ़ीट (5,450 मीटर) की ऊँचाई पर पेकेनो अलपामायो को भी जीता है। 28 अप्रैल को वे इलिमानी शिखर पर पहुंचे । इलिमानी की ऊँचाई पंचाचुली शिखर 1, 3, 4, और 5 और शिवलिंग के शिखर के समान है, जो इस उपलब्धि को और अधिक महत्वपूर्ण बनाती है । ज्ञात हो कि अपूर्व मेहता नैनीताल (अब हल्द्वानी निवासी) सुरेश मेहता के सुपुत्र हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  पहली बार टनकपुर से चले आदि कैलाश यात्रा के पहुंचने पर कुमाऊं मंडल विकास निगम के प्रबंधक दिनेश गुरुरानी के नेतृत्व में पर्यटक आवास गृह के कर्मचारियों ने जूस पिलाकर व माला पहनाकर यात्रियों का भव्य स्वागत किया ।
Advertisement