नशे के खिलाफ जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया

Advertisement

नैनीताल l सीआरएसटी इण्टर कॉलेज, नैनीताल में जिला प्रशासन एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी, नैनीताल की ओर से नशामुक्त भारत अभियान 2.0 के अन्तर्गत नशे के खिलाफ जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रधानाचार्य, श्री मनोज कुमार पाण्डे ने कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुए उपस्थित सभी का स्वागत किया गया। समाज कल्याण अधिकारी दीपाँकर घिल्डियाल ने कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए विद्यार्थियों को नशा मुक्त रहने का आह्वान किया व समाज में नशा मुक्ति का जो संदेश आज दिया जा रहा है उसे समाज में जन-जन तक पहुंचाना हम सब का कर्तव्य है। समाज को जागरूक करना ही ऐसे कार्यक्रमों का उद्देश्य रहता है। उत्तराखण्ड को 2025 तक नशा मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया है जिसके लिए बहुत अधिक कार्य किया जाना अभी शेष है। मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित श्रीमती सरिता आर्या, मा0 विधायक द्वारा छात्रों को अवगत कराया कि नशे का सेवन मानव जीवन एवं समाज के लिए एक अभिशाप है। मित्रों को देखकर अथवा शौकिया रूप से प्रारम्भ होकर नशा कब आदत बन जाता है पता ही नहीं चलता। उन्होंने नशे से होने वाले नुकसान एवं बीमारियों के बारे में भी विद्यार्थियों को अवगत कराया। इसके पश्चात् नशा एक अभिशाप शीर्षक पर एक भाषण प्रतियोगिता तथा पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। प्रतियोगिताओं में शहीद मेजर राजेश अधिकारी रा0इ0का0 नैनीताल, भारतीय शहीद सैनिक विद्यालय नैनीताल व सी0आर0एस0टी0 के छात्रों द्वारा प्रतिभाग किया गया। भाषण प्रतियोगिता में प्रथम स्थान साहिल खिमाल, द्वितीय स्थान दीपांशु पालिवाल, तृतीय स्थान दीपिका बहुखण्डी, चतुर्थ स्थान सरफराज व पंचम स्थान संदीप ने प्राप्त किया तथा पोस्टर प्रतियोगित में प्रथम स्थान मानसी आर्या, द्वितीय स्थान यश कुमार व तृतीय स्थान दीपक आर्या ने प्राप्त किया। उक्त छात्रों को ट्राफी व प्रशस्ति पत्र दिये गयें तथा कमल आर्या को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती सरिता आर्या, (मा0 विधायक, विधान सभा क्षेत्र, नैनीताल) श्री दीपाँकर घिल्डियाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी, नैनीताल, निर्णायक के रूप में डॉ0 नीलम जोशी, डॉ0 सोबन सिंह बिष्ट व विसम्बर पाण्डे तथा मौ0 चांद (अपर जिला समाज कल्याण अधिकारी), डॉ0 सुनीता भट्ट (जिला सलाहकार तम्बाकू नियंत्रण प्रकोष्ट नैनीताल), डॉ0 कोमल शर्मा, मनोज कुमार पाण्डे (प्रधानाचार्य), कविता गंगोला (समाजसेवी), गजाला कमाल (सभासद), गौरव भाकुनी, हिमांशु जोशी, अनुपम उपाध्याय (कार्यक्रम संचालक) व अन्य मौजूद रहें।

Advertisement