एक बेहतर वारमिगअप से न केवल चोट से बचा जा सकता है बल्कि २० प्रतिशत तक परफ़ॉर्मेंस को बड़ा सकता है

Advertisement


नैनीताल l मंगलवार कोशारीरिक शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित आमंत्रित व्याख्यान में द्वितीय दिन मध्य प्रदेश सरकार में कार्यरत स्पोर्ट्स ऑफ़िसर डॉक्टर तरुण रावत ये कोड के द्वारा विभिन्न प्रकार की मैं वार्मिंग अप तथा अपना प्रदर्शन को सुधारने के लिए उपयोगी तकनीकों पर चर्चा की। खेलो में वार्म अप की उपयोगिता एवं आधुनिक वार्मिंग अप प्रोटोकॉल के बारे में बताया। RAMP protocol से कैसे खेल प्रदर्शन में बढ़ौतरी की जा सकती है उसके बारे में चर्चा हुई। साथ ही खेलों की प्रकृति के हिसाब से कैसे वार्म को डिजाइन करना चाहिए , इसकी बारीकियों पर वक्त ने प्रकाश डाला। प्रतियोगिताओं में मैच से पहले वार्म अप का पर्याप्त समय दिया जाना चाहिए, जिससे कि खिलाड़ी अपना सर्वोच्च प्रदर्शन करे एवं चोटों से भी बचे। इसका ध्यान आयोजन समिति को भी देना होगा।
अंत में विभागाध्यक्ष डॉक्टर संतोष कुमार द्वारा डॉक्टर तरुण रावत को दो दिवसीय इस व्याख्यान ये लिए धन्यवाद ज्ञापित किया इस अवसर पर प्रोफ़ेसर और नीता बोरा शर्मा संकायाध्यक्ष विज्ञान चित्रा पांडे, प्रोफ़ेसर ललित तिवारी प्रोफ़ेसर लज्जा भट्ट कुमाऊं विश्वविध्यालय स्पोर्ट्स ऑफ़िसर डॉक्टर नगेन्द्र प्रसाद शर्मा डॉक्टर गीता तिवारी डॉक्टर पैनी जोशी डॉक्टर अनीता आदि उपस्थित थे l

Advertisement